what subjects are needed for computer science
Technical

complete knowledge of computer science कंप्यूटर साइंस की पूरी जानकारी

complete knowledge of computer science कंप्यूटर साइंस की पूरी जानकारी।

complete knowledge of computer science कंप्यूटर साइंस की पूरी जानकारी कंप्यूटर हमारे जिंदगी का एक हिस्सा बन गया है जिसके मदद से हमारे बहुत सारा काम घर बैठे ही हो जाता है जैसे शॉपिंग मोबाइल रिचार्ज और ऑनलाइन खिलाफ और ऑनलाइन पढ़ाई और ऑफिस का काम ऐसे बहुत सारे काम है जो कंप्यूटर साइंस के द्वारा की जाती है यह सब पॉसिबल हुआ है कंप्यूटर विज्ञान यानी कि कंप्यूटर साइंस के वजह से आज के डिस्टर्ब uak के पीछे कंप्यूटर साइंस का बहुत बड़ा योगदान है क्योंकि अगर कंप्यूटर नहीं होता तो इंटरनेट भी नहीं होता और कंप्यूटर साइंस जी नहीं होता जो नई-नई प्रोग्राम और नए-नए ऐप को तैयार करते हैं ताकि हम पूरा काम डिजिटल तरीके से कर सके कंप्यूटर के बारे में बहुत सारे चीज सुने होंगे लेकिन आज इस आर्टिकल के माध्यम से कैपिटल साइंस के बारे में आज हम पढ़ने जा रहे हैं कंप्यूटर साइंस क्या है इसके सीखने के लिए क्या चीज करना होता है और इसके किस तरह से कैरियर का ऑप्शन है।

Join For Official Update

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
YouTube Channel Subscribe
 

कंप्यूटर साइंस क्या है।

कंप्यूटर साइंस जो कंप्यूटर की बेसिक चीज इसके उपयोग और इसकी पढ़ाई को कंप्यूटर साइंस कहा जाता है कंप्यूटर साइंस के अंतर्गत कंप्यूटर और कंप्यूटर के अंतर्गत उपकरणों के बारे में अध्ययन कराया जाता है इस फील्ड में सॉफ्टवेयर और सॉफ्टवेयर बनाने के लिए खास तौर पर उपयोग किया जाता है कंप्यूटर साइंस में इलेक्ट्रिकल और कंप्यूटर इंजीनियर के विपरीत काम करने के तरीके होते हैं इसमें सिर्फ कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर से जुड़े कार्य किए जाते हैं कंप्यूटर दो चीजों से जुड़कर बने होते हैं पहला हार्डवेयर और दूसरा सॉफ्टवेयर कंप्यूटर इन दोनों मिलाने से ही काम करता है कंप्यूटर इंजीनियर सभी तरह के हार्डवेयर हिशो को पढ़ाया जाता है और कंप्यूटर साइंस के अंतर्गत सिस्टम सॉफ्टवेयर मल्टीमीडिया एप्लीकेशन डिजिटल इलेक्ट्रॉनिक्स डेटाबेस सिस्टम कंप्यूटर नेटवर्किंग के बारे में पढ़ाया जाता है कंप्यूटर साइंस में सॉफ्टवेयर एल्गोरिदम थ्योरी लॉजिक डाटा स्ट्रक्चर और प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे विषय भी शामिल होते हैं कंप्यूटर साइंस में अध्ययन करने के लिए प्रमुख क्षेत्र हैं आर्टिफिशियल नेटवर्क डेटाबेस ह्यूमन कंप्यूटर सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग और कंप्यूटर थ्योरी यह सब अलग-अलग थ्योरी है जो छात्र आपने रुचि के हिसाब से सब्जेक्ट को चूज करके लड़ाई कर सकते हैं ट्यूटर साइंस के डिग्री हासिल करने के बाद एक छात्र कोड बना सकता है प्रोग्राम को लिख सकता है प्रॉब्लम सॉल्व एरोलीदम सॉल्व कर सकते हैं जिससे वह यह कर सकते हैं
एक कंप्यूटर सिस्टम क्या चीज कर सकते हैं और क्या नहीं कर सकता कंप्यूटर साइंस हमेशा कुछ नया खोजने का प्रयास करते रहते हैं कंप्यूटर के द्वारा नई चीजें जैसे सॉफ्टवेयर और वेबसाइट में विकसित करते हैं।

what subjects are needed for computer science
what subjects are needed for computer science

कंप्यूटर साइंस को करने के लिए कौन सा कौन सा कोर्स करना चाहिए।

आधुनिक युग यानी कि आज के युग में हर काम कंप्यूटर पर किया जा रहा है लिहाजा इन्हें संचालित करने के लिए आर्मी के लिए लोगों को डिमांड काफी बढ़ रही है इसीलिए इस फील्ड में बेहतर कैरियर के ऑप्शन मौजूद है जिसमें कैरियर बनाया जा सकता है कंप्यूटर साइंस के पढ़ाई करने के लिए बहुत सारे कोर्स के ऑप्शन मिलेंगे जो कंप्यूटर के फील्ड के बारे में मार्गदर्शन कराते हैं कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई करने के लिए ऑनलाइन भैया किसी एटीट्यूट में नाम लिखा कर कंप्यूटर कोर्स पूरा कर सकते हैं

जैसे :-degree course in computer science
कंप्यूटर साइंस डिग्री कोर्स अंडर ग्रेजुएट पोस्ट ग्रेजुएट और टॉप ग्रेड के डिग्री की पढ़ाई कर सकते हैं इस कोर्स को पूरा करने के लिए समय सीमा 3 साल से 5 साल तक होती है अगर आप यूजी डिग्री के बाद पीजी डिग्री भी पूरी करना चाहते हैं तो आपको 5 साल का समय लगेगा अगर आप यू जी और पीजी करने के बाद डॉक्टर के डिग्री भी हासिल करना चाहते हैं तो आपको पढ़ाई पूरी करने में 8 से 10 साल का समय लगता है इन कोर्स में दाखिला लेने के लिए योगिता की बात की जाए तो U G में दाखिला लेने के लिए आपको टेन प्लस टू के क्वालिफिकेशन होनी चाहिए आप साइंस सब्जेक्ट लेकर पढ़ाई पूरी करनी होगी अभी आप यूजी में कैप्टन साइंस की पढ़ाई पूरी कर सकते हैं कंप्यूटर साइंस में ग्रेजुएट में 2 सब्जेक्ट होते हैं।
BSC (computer science)
BCA (Bachelor of computer application)
तो इन दोनों सब्जेक्ट में आपको चुज कर ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करनी होती है।

PG की पढ़ाई करने के लिए ग्रेजुएट की डिग्री होनी चाहिए पीजी में MSC -MCA की पढ़ाई कराई जाती है जिसकी समय सीमा 2 साल की होती है
डिक्टोरेटे की डिग्री के लिए पोस्ट ग्रेजुएट की डिग्री होनी चाहिए इसमें पीएचडी की पढ़ाई की जाती है जिसकी समय सीमा 3 साल से 5 साल के बीच होती है भारत में ऐसी कई सारे एवर्सिटी है जहां यहां पूरा कोर्स करने के लिए नामांकन करा सकते हैं।

Diploma course and computer science

जिस बच्चों को कंप्यूटर साइंस में महारत हासिल करनी है तो उसे यूजी और पीजी पढ़ाई नहीं करनी है वे अपना डिप्लोमा के कोर्स करके अपने सपनों को पूरा कर सकते हैं इसको समय बच्चों को कंप्यूटर साइंस आईटी के फंडामेंटल की पढ़ाई कराई जाती है इस कोर्स को किसी इंटिट्यूट या कॉलेज में नामांकन कराकर यह कोर्स को पूरा किया जा सकता है डिप्लोमा कोर्स करने के लिए आपको पास मैट्रिक का सर्टिफिकेट होना बहुत ही जरूरी है और यह कोर्स के समय सीमा 1 साल से 3 साल तक होती है डिप्लोमा के डिग्री कोर्स पूरा करने के बाद बहुत सारे जॉब आप कर सकते हैं | 

read more :-

Lavkush Kumar
नमस्कार दोस्तों आप सभी का हमारे इस वेबसाइट importantclass.com में स्वागत है। इस वेबसाइट के द्वारा आप सभी लोगों तक सभी प्रकार की खबरें जैसे:– देश–दुनिया, बॉलीवुड न्यूज़, बिजनेस अपडेट, टेक & ऑटो ( Technology News in Hindi ) , क्रिकेट और राशिफल Etc. रोजाना ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए हमारे साथ जुड़े रहे।
http://importantclass.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *