jee main and jee advanced kya hai
JEE main and JEE advance

JEE main and JEE advanced difference ( जेईई मेन एंड जेईई एडवांस की पूरी जानकारी)

नमस्कार दोस्तों आज हम बात करेंगे engineer jee jee advance इन सभी चीजों के के बारे में इन सभी वर्ल्ड के बारे में डिटेल इस आर्टिकल के माध्यम से बताने जा रहे हैं तो दोस्तों इस आर्टिकल को शुरू से अंत तक जरूर पढ़े हैं ताकि आपको इंजीनियर जेई जेई एडवांस की तैयारी कैसे की जाती है और इसका तैयारी कैसे करें और बहुत ऐसी बातें हैं जो आपको इस आर्टिकल के नीचे दिया गया है जिससे आप समझ पाएंगे कि इंजीनियर बनने में कितना समय लगता है और जॉब कैसे मिलती है यह सब लेकर पूरी जानकारी आपको आज हम आपको बताने जा रहे हैं।

Join For Official Update

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
YouTube Channel Subscribe
 

अगर आप भी इंजीनियर बनना चाहते हैं तो आप इतना ही जानते होंगे कि इंजीनियर बनने के लिए BE इसका मतलब होता है बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग या फिर बीटेक मतलब बैटल ऑफ टेक्नोलॉजी करना होता है पर आप जानते हैं कि बीटेक बी ई ई करने के लिए इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा इंजीनियरिंग इंटरेस्ट एग्जाम देना होता है तभी आपको किसी इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन मिलता है आज का जो टॉपिक है जेईई जो नेशनल लेवल का यह टॉपिक इंटरेस्ट एग्जाम है जो आप इंजीनियर बनना चाहते हैं तो यह बहुत जरूरी है कि सही समय पर सही जानकारी मिले।

jee main and jee advanced  क्या होता है?

JEE main and JEE advanced difference ( जेईई मेन एंड जेईई एडवांस की पूरी जानकारी) इंजीनियरिंग में एडमिशन लेने के लिए वैसे तो स्टेट लेवल पर कई एग्जाम लिए जाते हैं किंतु नेशनल लेवल पर ली जाने वाली मैं से JEE में से एक है जेईई में इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन के लिए ली जाने वाली संयुक्त परीक्षा है जो सीबीएसई द्वारा वर्ष मैं 2 बार कंडक्ट की जाती है कुछ सालों से पहले jee को दो भागों में बांट दिया गया पहला jee main और दूसरा jee advance अगर हम बात करें कि jee main में कौन दे सकता है तो इलेवंथ और ट्वेल्थ फिजिक्स केमिस्ट्री मैथ मैं पास होने वाले छात्र छात्राएं वह छात्र जो क्लास में पढ़ रहे हैं या ब्राह्मी या संकट या फिजिक्स केमिस्ट्री मैथ के साथ उत्तीर्ण होने वाले छात्र एवं छात्राएं।

JEE main करने से कहां एडमिशन मिलेगा?

दोस्तों अगर आप इस क्लास में अच्छे अंक से पास करते हैं तो आपको NIT , IIIT जैसे प्रतिशत कॉलेज में एडमिशन मिल सकता है इसके अलावा जो विद्यार्थी कम ऑन से पास करते हैं उनके लिए आप लोगों के लिए अच्छे इंजीनियरिंग कॉलेज मिल जाता है मतलब साफ है कि आप जितने अच्छे अंक लाएंगे उतने ही आपको अच्छा कॉलेज मिलेगा।

jee main and jee advanced kya hai

JEE main मैं पेपर कैसा होता है?

JEE main का एग्जाम ऑनलाइन होती है और इस एग्जाम में 90 प्रश्न होता है जिसमें प्रत्येक विषय में फिजिक्स ,केमिस्ट्री , मैथ 30 30 प्रश्न होता है और कुल अंक 360 अंको का प्रश्न पूछे जाते हैं इसमें सभी प्रश्न पत्र ऑब्जेक्टिव क्वेश्चन होते हैं ऑब्जेक्टिव क्वेश्चन में आपको चार ऑप्शन मिलते हैं उनमें से आपको एक सेलेक्ट करना होता है और प्रत्येक सवाल पर 1/4 नंबर गलती होने पर अंक काट लिया जाता है यानी कि गलत आंसर की नेगेटिव मार्किंग होता है जो कि बहुत ही डेंजर होता है।

JEE main कितनी बार परीक्षा दे सकते हैं?

जब आप ट्वेल्थ में पढ़ रहे होते हैं और तभी से लेकर आप 3 वर्षों आप जेईई मेंस का एग्जाम दे सकते हैं जेईई मेंस मैं प्रत्येक वर्ष 2 बार एग्जाम लिया जाता है तेरा से आप 6 बार तक एग्जाम दे सकते हैं।

JEE advance के बारे में पूरी जानकारी?

JEE advanc भी jee main इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन के लिए आप जा सकते हैं और इंटरेस्ट एग्जाम देकर आप जेईई एडवांस में एग्जाम देकर सभी कॉलेज यूनिवर्सिटी में अपना नाम दर्ज करा सकते हैं लेकिन दोस्तों एडवांस में jee main बहुत अंतर है jee main में अलग लेवल का होता है इनमें जो छात्र सम्मिलित होते हैं JEE main के top 1 लाख 50000 छात्र होते हैं एवं इनमें सफल छात्र को जैसे आईटीआई कॉलेज मैं एडमिशन होते हैं।

JEE advance कौन दे सकता है?

वह असिडेंट जो ट्वेल्थ में 75% अंक से पास हो जनरल और ओबीसी 75% एसटी और एससी 65% स्टूडेंट जो जिसकी jee के रिजल्ट रैंक करीब दो लाख के नीचे हो मतलब कि युवा छात्र जो जेईई एडवांस एग्जाम दे सकते हैं दूसरी बात हुआ है कि वह छात्र जिसका उम्र 25 साल से ज्यादा ना हो और कोई भी छात्र-छात्राएं ज्यादा से ज्यादा 2 साल तक ही जेईई एडवांस का एग्जाम दे सकता है।

JEE advance करना कहां से हैं और एडमिशन कहां मिलेगा

JEE advance IIT(Indian institute technology) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान में एडमिशन के लिए जानी जाती है लेकिन आईटीआई के अलावा और भी कुछ बड़े कॉलेज हैं जहां पर जेईई एडवांस के आधार पर एडमिशन मिलता है इन कॉलेजों में निम्न प्रकार हैं।

. Ajeeb Gandhi institute of petroleum technology(Raebareli)
. India institute of science education of discharge research( Kolkata. Pune. Mohali.)
. Indian institute of space science and technology (Chennai)

JEE advance का पेपर कैसा होता है?

यह एग्जाम देश भर के सबसे कठिन एग्जाम में से एक है यह एग्जाम को क्लियर करने के लिए काफी ज्यादा मेहनत और और लग्न की जरूरत होती है आप एक सही योजना और सही मार्गदर्शन मैं इस एग्जाम को पास कर सकते हैं
ऑनलाइन के माध्यम से होने वाली यह एग्जाम ऑब्जेक्टिव टाइप की होती है और इसमें भी नेगेटिव मार्किंग होता है और यह एग्जाम 2 प्रत में लिया जाता है प्रत्येक विषय में फिजिक्स केमिस्ट्री मैथ पेपर होता है।

JEE advance के आवेदन कैसे किया जाए?

JEE main मैं रिजल्ट आने के बाद आप ऑनलाइन के माध्यम से
JEE advance का फॉर्म अप्लाई कर सकते हैं|

Lavkush Kumar
नमस्कार दोस्तों आप सभी का हमारे इस वेबसाइट importantclass.com में स्वागत है। इस वेबसाइट के द्वारा आप सभी लोगों तक सभी प्रकार की खबरें जैसे:– देश–दुनिया, बॉलीवुड न्यूज़, बिजनेस अपडेट, टेक & ऑटो ( Technology News in Hindi ) , क्रिकेट और राशिफल Etc. रोजाना ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए हमारे साथ जुड़े रहे।
http://importantclass.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *